Best 5 Tips How to Wake up Early Morning

294

इस article में हम आपके साथ 5 most practical tips करने वाले हैं जिनकी मदद से आप 100% रोज Wake up Early Morning। अगर आप हमारे बताए जाने वाले 5 स्टेप्स पुरे डिसिप्लिन के साथ follow करते हैं तो चलये जानते है।

Wake up Early Morning

1. Switch-off Your Phone Early:

अगर असल में देखा जाए तो सुबह जल्दी उठने से कई गुना ज्यादा मुश्किल रात को टाइम पर सोना होता है। ये होता है हमारे फोन्स की वजह से रात को जल्दी नींद न आने के सिर्फ दो कारण हो सकते हैं। पहला है कोई साइकोलॉजिकल प्रॉब्लम जैसे स्ट्रेस, ओवर थिंकिंग या डिप्रेशन। ऐसा है तो प्लीज आप डॉक्टर से कंसल्ट करें और दूसरा आपका खुद का बिगड़ा हुआ स्लीपिंग रूटीन जिसे ठीक करने के लिए आप हमारी ये बातें फॉलो करें। सबसे पहले आपने कितने बजे उठना है वो टाइम डिसाइड करो। सुबह 4 बजे 8 बजे that is your choice लेकिन आप ने डेली 7 से 8 घंटे की नींद जरूर लेनी है।

अगर अगले दिन प्रोडक्टिव रहना है फिर उस हिसाब से जो रात को सोने का टाइम डिसाइड किया है उस टाइम से 2 घंटे पहले अपना फोन स्विच आफ कर देना है। मानलो आपको 10 बजे सोना है तो रात को 8 बजे ही अपना फोन स्विच ऑफ कर दो और फिर अपने फोन और इयर फोन को अपने सिरहाने के पास बिल्कुल भी नहीं रखना। फोन में alarm लगाते हो तो फोन में एक फीचर होता है। जिसमें आप अलार्म set करने के बाद अपने फोन को स्विच ऑफ कर दो और जो टाइम आपने सेट किया है उतने बजे फोन खुद ही ऑन हो जाएगा।

अलार्म बजने लग जाएगा और अगर ये फीचर नहीं तो बैस्ट है के आप एक अलार्म क्लॉक खरीद लो या अगर आप से पहले कोई घर में उठता है तो आप उनको आपको उठाने के लिए बोल सकते हैं लेकिन हमारा गोल यही होना चाहिए कि रात को सोने से 2 घंटे पहले फोन स्विच ऑफ कर देना। अब यह सोने से पहले इन दो घंटों में करना क्या है वो हम आपको point number 3 में डिटेल में बताएंगे। लेकिन अगर आप फोन स्विच ऑफ करने के आदत को फॉलो नहीं कर सकते तो आप सुबह जल्दी उठने के बारे में भूल जाओ और फिर आगे के पॉइंट्स आपके किसी काम के नहीं।

Read also:

2. Your Purpose Should Be Strong:

क्या आपको याद है कि जब हमें कभी सुबह अर्ली मॉर्निंग कोई ट्रेन पकड़नी होती है तो कैसे हम सुबह 3 या 4 बजे उठ जाते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारे इतना सुबह जल्दी उठने के पीछे एक बहुत स्ट्रॉंग रीजन होता है तो रोज सुबह जल्दी उठने के पीछे आपका भी कोई strong reason या बिजनेस पर्पस होना चाहिए। आप अपना रीजन ये मत बनाओ कि मैं बस जल्दी उठना चाहता हूं या फिर वर्ल्ड के कुछ मोस्ट सक्सेसफुल लोग सुबह जल्दी उठते हैं तो इसलिए मैं भी जल्दी उठेगा। आपके पास कोई सॉलिड रीजन होना चाहिए।

अभी आपकी स्टडीज हो सकती है आपका work या आप की practice etc. आपको सुबह जल्दी उठ के फ्रेश होने के बाद वो एक्टिविटी करनी है जो आपके लिए मोस्ट इम्पॉर्टेंट है। आपके सुबह उठने के बाद के तीन चार घंटे बिल्कुल भी फ्री नहीं होने चाहिए। आपको अपने टाइम को फिक्स करके चलना है।

अगर आपके पास पूरा दिन फ्री रहेगा तो आप सुबह जल्दी उठेंगे ही के और सुबह उठने के बाद डे प्लैन करने की गलती आपने नहीं करनी है बल्कि आपको एक दिन पहले ही अपना अगला पूरा दिन प्लान करके सोना है जिससे आप उठने के बाद ये सोचने में टाइम वेस्ट ना करें के आज मुझे करना क्या है आपको सुबह उठने के लिए एक अर्जेंसी क्रिएट करके रखनी है।

3. Follow A Bedtime Routine to Wake up Early Morning:

अब सवाल आता है लेकिन ये सोने से पहले जो दो घंटे हैं उसमें हम करें क्या? देखो सोने से पहले दो घंटे फोन ना चलाने की आदत शुरुआत में मुश्किल और बोरिंग होने वाली है। लेकिन जब भी हमें किसी पुरानी आदत को छोड़ना होता है तो हमें उसे न्यू हैबिट से रिप्लेस करना पड़ता है। तो आपको इन दो घंटों में एक रूटीन फॉलो करना है जिसमें आपको वो चीजें करनी है जो आपको पसंद हो।

जैसे कि इस टाइम में आप कोई बुक पढ़ सकते हैं, सेल्फ हेल्प, या कोई स्टोरी वाले फिक्शनल बुक जो भी आपको सदन इंटरेस्टिंग लगे आप जर्नलिज्म कर सकते हैं। अगर आपकी कोई हॉबी है तो उसे कर सकते हैं या अपनी फैमिली के साथ टाइम बिता सकते हैं और अगर आपको कुछ भी नहीं करना तो नॉर्मल कुछ भी ना करके सिर्फ नॉर्मल रह सकते हैं। ये रुटीन ऐसा होना चाहिए जो आपको पसंद हो।

Read also:

4. Jump of The Bed, Right Away:

अलार्म बजने के बाद हम खुद से ही कहते हैं यार बस पांच मिनट और सो जाऊ फिर उठ जाऊँगा। फिर या तो हम snooze बटन दबाते रहते हैं या सोचते हैं कि थोड़ी देर बाद उठ जाएगा और उठने की जगह दोबारा सोजाते हैं. आप से अपना कलाम के snooze ऑप्शन को हमेशा के लिए ऑफ कर देना और पांच दस अलग अलग टाइम कलाम लगाने की गलती भी नहीं करनी है। सिर्फ एक ही अलार्म लगाना है।

अलार्म क्लॉक क्या फोन को खुद से दूर रखना है ताकि आपको से बंद करने के लिए बेड से उठकर चले जाना पड़े और जैसे ही अलार्म बजता है तो mel robbins का फाइव सेकेंड रूल follow करो। अपने माइंड में 5, 4, 3, 2, 1 कहो और सीधा बिना कुछ सोचे बैठ से उठ जाए और फिर आपने उठते ही अपने बेड पर लेटे लेटे फोन यूज नहीं करना है।

5. Only Starting Days Will Be Hard:

जब भी हम कुछ नया शुरू कर ते है अपने कंफर्ट जोन से बाहर तो हमें शुरुआत में काफी मुश्किल तो होती है। आपको भी शुरुआत के कुछ दिन daily laziness, थकान, फोकस में प्रॉब्लम, आखों से पानी आएगा, या सोने का मन करेगा। अगर आपका दिन में सोने का मन करे तो भी नहीं सोना बल्कि आप अपनी बॉडी को इस न्यू रुटीन की आदत डलवाना है। आपकी बॉडी भी न्यू रुटीन में डलेगी और आप भी और यह स्टार्टिंग के कुछ वीक बिताने के बाद आप नॉर्मल फील करेंगे। आपकी सुबह जल्दी उठने की आदत बन जाएगी।